September 22, 2020
5 scientific reasons: why crying is beneficial

5 scientific reasons: why crying is beneficial

5 वैज्ञानिक कारण : रोना लाभदायक क्यों होता है ? 5 scientific reasons: why crying is beneficial ?

कभी कभी रोना भी सेहत के लिए और दिमाग के लिए काफी लाभदायक होता है। वैज्ञानिकों के अनुसार रोने के बहुत फायदे भी होतें है , यह आपके स्वास्थ्य एवं दिमाग में सुधार कर सकता है। जब आप  किसी कारण रोते हैं, तो यह आपके लिए शारीरिक, मानसिक और निश्चित रूप से और भावनात्मक रूप से आपको बहुत लाभ पहुंचाता  है। तो आइये जानते है कुछ अच्छी बातों के बारे में……..

5 वैज्ञानिक कारण : रोना लाभदायक क्यों होता है ? 5 scientific reasons: why crying is beneficial

#1. रोना विषाक्त पदार्थों और बैक्टीरिया को बाहर करता है। (Crying Flushes Out Toxins And Bacteria)

5 scientific reasons: why crying is beneficial

“क्या आप जानते हैं कि रोने का एक अच्छा, लंबा सत्र अक्सर आपको बेहतर महसूस करा सकता है, भले ही आपकी परिस्थितियाँ बिलकुल भी नहीं बदली हों। “

“A Series of Unfortunate Events” नामक किताब के लेखक ने इसमें इसके बारे में बहुत कुछ लिखा है जो की काफी उल्लेखनीय है। 

‘रोने के बाद हम बेहतर महसूस करते हैं, भले ही रोने के बाद कुछ भी ना बदले और भले ही रोने के बाद हमारी ऑंखें सूख जाये।’

आखिर ऐसा क्यों होता है ?

ऐसा इसलिए होता है क्यूँकि  इसके पीछे वैज्ञानिक कारण होता है।  रोने के कारण शरीर से विषाक्त पदार्थ एवं हानिकारक बैक्टीरिया आंसुओं के साथ बाहर निकल जातें है। 

जैव रसायनज्ञ और दुनिया भर में चर्चित आँसू के विशेषज्ञ Dr. William Frey  ने पाया है की भावनाओं की वहज से निकले हुए आँसुओ में अधिक टॉक्सिन होता है। इसका मतलब जब कोई भी इंसान रो रहा होता है तब ये टॉक्सिन (विषैले पदार्थ ) आंसुओं के साथ शरीर से बाहर निकल जाते हैं , आँसू  बैक्टीरिया से भी लड़ते है। 

ये सुनने में तो अजीब लगता है लेकिन ये बात सच है की ‘रोना आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है।’

#2. रोने के बाद दिमाग और मन शांत होता है। (Crying Relieves mind and soul)

5 scientific reasons: why crying is beneficial

रोने के बाद अच्छा महसूस करने का मुख्य कारण  ये है की आँसू हमें हमारे manganese level को manage करने में मदद करते हैं। 

Manganese level का overexposure अक्सर भयानक परिणाम लाता है जैसे की घबराहट, चिड़चिड़ापन, चिंता और अनेक प्रकार के भावात्मक संकट उत्पन्न हो जाते हैं। ऐसे आंसू जो भावनाओं की वजह से निकलता है वो manganese level को कम करता है क्योंकि आँसुओं में उच्च एल्बुमिन प्रोटीन सांद्रता होती है, जो हमारे शरीर के माध्यम से छोटे अणुओं को स्थानांतरित करने में मदद करती है। 

शायद आपको  इसके पीछे के बायोलॉजी को समझने में थोड़ा कठिनाई होगा लेकिन आपके लिए सिर्फ इतना जानना काफी जरुरी है की “जब आप रोते है उसके बाद आप अच्छा महसूस करते है। “

वैज्ञानिक बताते है की रोते  हुए जो आंसू शरीर के बाहर निकलते है वो एकदम वैसा ही होता है जैसा एक्सरसाइज करते हुए पसीना निकलता है। और ये ऐसे केमिकल होते है जो आपके स्ट्रेस को बढ़ाते है इसलिए इन केमिकल के निकलने के पश्चात इंसान काफी अच्छा महसूस करता है। 

#3. यह आपके कमजोर पक्ष को आपसे रूबरू करवाता है। (It Opens Up Your Vulnerable Side to you)

5 scientific reasons: why crying is beneficial
5 scientific reasons: why crying is beneficial

“लेखक में कोई आँसू नहीं, तो पाठक में भी कोई आँसू नहीं। लेखक में कोई आश्चर्य नहीं, तो पाठक में भी कोई आश्चर्य नहीं” |                                                                                                                 – Robert Frost

इस कहावत में प्रसिद्ध कवि Robert Frost मुख्य रूप से कहानी कहने की कला का उल्लेख कर रहे हैं, लेकिन यह मैसेज यहां भी लागू होता है की कैसे रोना आपको खुद से खुदा और अच्छे से रूबरू करवाता है। 

लेकिन इसका यह मतलब  नहीं की आप हमेशा रोते ही रहें, पर  परिस्थिति अगर कुछ ऐसा हो की आपको रोना आये तो रो लेना चाहिए क्यूंकि रोने से कभी कभी इंसान को अपनी सच्चाई का भी पता चलता है और दूसरों के साथ कैसे पेश आना है शायद उसकी भी समझ आती है। 

रोना प्रायः इंसान के कमजोर होने का प्रतीक (गलती से )माना जाता है , लेकिन रोते हुए खुदको समझाना आपके चरित्र को काफी मजबूत और आपको काफी समझदार बनाता है। 

अपने गौरव को समझना काफी महत्वपूर्ण होता है, इसलिए यह याद रखें की अगर कोई आपके सामने रो रहा है या आप किसी के सामने रोते है और फिर शर्मिंदा महसूस करते है तो प्लीज आप कोई पछतावा न करें अपनी आंसुओं को  बहने दें। क्योंकि यह आपका आपसे रूबरू करवाता है। 

#4. आंसू शोक प्रकिया से बाहर आने में मदद करता है। (Tears Help The Grieving Process)

5 scientific reasons: why crying is beneficial

जब आप उदास होते हो या आपको अच्छा महसूस नहीं हो रहा होता है उस समय खुद को मोटीवेट करना काफी महत्वपूर्ण होता है। कोई ऐसा इंसान जिससे आप बहुत प्यार करते हो और वो दुनिया छोड़कर जा चुका है या फिर कोई ऐसी चीज जिसे आप बहुत ज्यादा चाहते हो तो ऐसी स्थिति में जब आप रोते है तब आप उस इंसान के लिए या उस चीज के लिए अपने दिल में बहुत ही स्पेशल जगह बना लेते है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि रोते समय आप खुद को उसके बारे में अच्छा समझा रहे होते है। 

कभी कभी तो वो इंसान या वो चीज आपको इतनी प्यारी लगने लगती है की उसके बिना जीना मुश्किल हो जाता है और ऐसे हालात में कुछ लोग ऐसे भी होतें है जो खुद को ही नहीं संभाल पातें हैं और आत्महत्या तक कर लेते हैं।

सभी को अपनी भावनाओं को सँभालने के लिए समय चाहिए  होता है , किसी भी बड़े नुकसान को भरने के लिए इंसान रोता  है जिससे धीरे धीरे उसका दिमाग हल्का होता है और वो इंसान भी धीरे धीरे सामन्य होने लगता है। 

#5. यह जीवन में आगे बढ़ने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम होता है। (It’s Is A Crucial Step To Start Moving Forward)

5 scientific reasons: why crying is beneficial

“वो लोग जो  रोते नहीं ,वो आगे आने वाली परिस्थिति को देखते नहीं। ”                               ― Victor Hugo

वैज्ञानिक स्तर पर, आँसू वो हैं जो हमें देखने में मदद करते है। इसका  अर्थ है कि आँसू किस लिए हैं?  आँसू  हमारे आंखों (eyeballs )और हमारी पलकें (eyelids)चिकना करते हैं और हमें अपने श्लेष्म झिल्ली (mucous membranes) के निर्जलीकरण (dehydration) को रोकने में मदद करते हैं। 

एक बहुत ही आकर्षक लेख “The Miracle of Tears” में लेखक डॉ. जेरी बर्गमैन बताते हैं कि आंसुओं के बिना , कम समय के लिए देखना बहुत असुविधाजनक और लम्बे समय के लिए नामुमकिन होता है। 

आंसू हमें हमारा भविष्य देखने में भी मदद करते है ,हमें जीवन के प्रति जागरूक बनातें हैं और हम जीवन जिस दायरे में रहकर रोते  है ये हमें उस दायरे से बाहर निकालते है और आगे बढ़ने का कुछ ढृढ़ निश्चय करने का हौसला देतें है। 

अपने अतीत की चीजों की वजह से हमने जो दर्द महसूस किया है उसे छोड़ कर हम वर्तमान और भविष्य के बारे में खुशी महसूस कर सकते हैं। अपनी भावनाओ को अंदर इकट्ठा करने की बजाय उनको बाहर निकलने देना चाहिए  ये काफी महत्वपूर्ण होता है। यह आपको आगे बढ़ने में सक्षम बनाता है और उस सफलता की तरफ आपको काम करने के लिए प्रोत्साहित करता है जो आप हमेशा से चाहते थे।

रोना अक्सर बुरे रूप में देखा जाता है ,लेकिन यह आपके भावनाओं को मुक्त  करता है जिससे आप भविष्य में कुछ अच्छा करने के लिए खुद को खोल रहे होते है। इसलिए जब भी आपका रोने का मन करे तो कुछ आंसू जरूर बहा लीजिये। उसके बाद आप पहले से अच्छा महसूस करेंगे। 

धन्यवाद।